Test: Solid Mechanics- 1


20 Questions MCQ Test Mock Test Series of SSC JE Civil Engineering (Hindi) | Test: Solid Mechanics- 1


Description
Attempt Test: Solid Mechanics- 1 | 20 questions in 12 minutes | Mock test for Civil Engineering (CE) preparation | Free important questions MCQ to study Mock Test Series of SSC JE Civil Engineering (Hindi) for Civil Engineering (CE) Exam | Download free PDF with solutions
QUESTION: 1

अधिकतम कतरनी तनाव औसत कतरनी तनाव [आयताकार बीम के लिए] ______ गुना है।

Solution:

अधिकतम कतरनी तनाव तटस्थ अक्ष पर होता है। फिर y = 0
अधिकतम कतरनी तनाव = 3F / 2bd = 3/2 [F / bd]
= 1.5 औसत कतरनी तनाव।

QUESTION: 2

एक बिंदु पर अधिकतम और लघुतम प्राथमिक तनाव क्रमश: 3 Mpa और -3 Mpa हैं। बिंदु पर अधिकतम अपरूपण तनाव निम्न में से क्या है?

Solution:

अधिकतम अपरूपण तनाव (τ) द्वारा दिया जाता है:-

QUESTION: 3

एक बीम के अनुप्रस्थ काट समतल के भीतर एक बिंदु जिसके माध्यम से, बीम के अनुप्रस्थ काट में बिना घुमाव के शुद्ध बंकन को सुनिश्चित करने के हेतु से, बीम पर परिणामी बाह्य भार पारित होता है, इसे क्या कहा जाता है?

Solution:

अपरूपण केंद्र एक बिंदु है जिसके माध्यम से जब एक केंद्रित भार गुजरता है तो इसके परिणामस्वरूप बिना कोई घुमाव के केवल बंकन होता है। इसे बंकन का केंद्र भी कहा जाता है। यह एक बिंदु है जिसके माध्यम से परिणामी अपरूपण पारित होता है। घुमाव को टालने और केवल बंकन प्राप्त करने के लिए, बलों को एक विशेष बिंदु के माध्यम से कार्य करना जरूरी है, जो कि केन्द्रक के साथ मेल नहीं खा सकता है।

QUESTION: 4

एक आयताकार बीम 24 सेमी चौड़ा और 50 सेमी गहरा है, इसका अनुभाग मापांक_______द्वारा दिया जाता है।

Solution:

अनुभाग मापांक को बीम (Ymax) के दूरतम x-अनुभाग की अधिकतम दूरी से बीम के गुरुत्वाकर्षण केंद्र के चारों ओर इसके जड़त्वाघूर्ण के अनुपात के रूप में परिभाषित किया जाता है।


QUESTION: 5

वास्तविक बीम में स्थायी समर्थन संयुग्मित बीम में निम्न में से क्या बन जाता है?

Solution:
QUESTION: 6

एक बीम के_______अनुभाग पर अपरूपण तनाव अधिकतम होता है:-

Solution:
QUESTION: 7

आयताकार अनुप्रस्थ काट के साथ एक सरल समर्थित बीम का मध्य विस्तार एक संकेंद्रित भार के अधीन है। यदि बीम की चौड़ाई और गहराई दोगुनी हो जाती है, तो मध्य विस्तार में विक्षेपण निम्न में से किस मान तक कम हो जाएगा?

Solution:
QUESTION: 8

एक गोल छड़ पर एक तनन परीक्षण किया जाता है। विभंजन के बाद यह पाया गया कि विभंजन पर व्यास लगभग समान रहता है। परीक्षण के तहत निम्न में से कौन सा पदर्थ था?

Solution:

तनन परीक्षण के तहत भंगुर पदार्थों में भंगुर विभंजन होता है अर्थात उनका विफलता समतल भार के अक्ष के 90०  होता है और छड़ में कोई लंबन नहीं होता है, यही कारण है कि भार आरोपित होने से पहले और बाद में व्यास का मान समान रहता है। उदाहरण के लिए: कच्चा लोहा, कंक्रीट इत्यादिI

लेकिन तन्य पदार्थ के लिए, पदार्थ का पहले लंबन होता है और फिर विफलता होती है, विफलता समतल भार के अक्ष के 45०  होता है। विफलता के पश्चात कप-शंकु विफलता देखी जाती है। उदाहरण के लिए: मृदु इस्पात, उच्च तनन इस्पात इत्यादिI

QUESTION: 9

निम्नलिखित कथनों पर विचार करें:

1. एक प्राथमिक समतल पर, केवल सामान्य तनाव कार्य करता है

2. एक प्राथमिक सतह पर, सामान्य और अपरूपण दोनों तनाव कार्य करते हैं

3. एक प्राथमिक सतह पर, केवल अपरूपण तनाव कार्य करते हैं

4. तनाव की समानुवर्ती स्थिति सन्दर्भ के दायरे के स्वतंत्र है

उपरोक्त में से कौन सा/से कथन सही है/हैं

Solution:

प्राथमिक समतल ऐसे समतल हैं जिन पर केवल सामान्य तनाव ही कार्यशील होता है और अपरूपण तनाव शून्य होता है,

विकल्प 2 और 3 गलत हैं। अत: सही विकल्प 1 और 4 हैंI

QUESTION: 10

जिसके दोनों सिरे स्थायी हो ऐसे स्तम्भ से जिसके दोनों सिरे हिंज वाले हो ऐसे स्तम्भ का व्याकुंचन भार का अनुपात क्या होगा?

Solution:

व्याकुंचन भार निम्न द्वारा दिया जाता है:

दोनों स्थायी सिरों के लिए, 

दोनों हिंज वाले सिरों के लिए, leff = l


QUESTION: 11

प्वासों (Poisson's) के अनुपात की सीमा क्या है?

Solution:

प्वासों (Poisson's) के अनुपात की सीमा -1 से 0.5 के बीच परिवर्तनीय होती है।

रबड़ के लिए μ = 0.5

QUESTION: 12

निम्नलिखित बीमों का उनके बंकन अघूर्ण आरेख से मिलान करें

Solution:

साधारण सहायक बीम में दो बिंदु लोड के लिए बंकन अघूर्ण विषम चतुर्भुजाकार होगा।

साधारण सहायक बीम में UDL के लिए बंकन अघूर्ण परवलयिक होगा।

कैंटिलीवर बीम में UDL के लिए बंकन अघूर्ण चित्र (ii) में दिखाया गया है। 

QUESTION: 13

एक स्तम्भ, जिसके दोनों सिरों को हिंज किया हुआ है, वह 100 किलोन्यूटन का क्रिप्लिंग भार उठाए हुए है। उसी स्तम्भ द्वरा उठाया गया क्रिप्लिंग भार कितना होगा, जब स्तम्भ का एक सिरा स्थिर है और दूसरा सिरा मुक्त है।

Solution:

क्रिप्लिंग भार वहन क्षमता, 

  यदि, अन्य सारे पैरामीटर स्थिर हैं

QUESTION: 14

कठोरता के मापांक को ________ के अनुपात के रूप में परिभाषित किया जाता है।

Solution:

तनन तनाव या संपीड़न तनाव से इसके सापेक्ष विकृति का अनुपात स्थिर है। इस अनुपात को यंग का मापांक या प्रत्यास्थता के मापांक के रूप में जाना जाता है और E द्वारा दर्शाया जाता है।

प्रत्यास्थता सीमा के भीतर अपरूपण तनाव से इसके सापेक्ष अपरूपण विकृति के अनुपात को कठोरता का मापांक या अपरूपण मापांक के रूप में जाना जाता है। यह C या G या N द्वारा दर्शाया जाता है।

QUESTION: 15

नीचे दिया गया मोहर का वृत्त, निम्न तनाव की स्थिति में से किस एक स्थिति के अनुरूप है​?

Solution:

मोहर के वृत्त की त्रिज्या = 100 MPa

और, मोहर के वृत्त का केंद्र इसके मूल से  के अंतर पर है।

यहाँ, यह मूल के अंतर्गत है

अत: 

हालाँकि,    

दोनों सामान्य तनाव शून्य हो सकते हैं जो कि एक शुद्ध अपरूपण स्थिति है या यह प्रकृति में विपरीत हैं जो किसी भी विकल्प में मौजूद नहीं है।

अत: यह शुद्ध अपरूपण स्थिति है, जहाँ त्रिज्या इस प्रकार है,

QUESTION: 16

यदि, महत्तम प्राथमिक तनाव σ1 = 60 न्यूटन/मिमीहै, शून्य मान वाले σ2 और σ3, इकाई आयामों वाले घन पर कार्यरत हैं, ​तो, इस घन में संग्रहित महत्तम अपरूपण विकृति उर्जा निम्न में से क्या होगी?

Solution:

अपरूपण विकृति उर्जा

QUESTION: 17

यदि, समान वितरित भार के अधीन एक कैंटिलीवर बीम के मुक्त सिरे पर विक्षेपण और ढलान क्रमशः ​15 मिमी और 0.02 रेडियन है​। तो बीम की लम्बाई क्या है?

Solution:

समान वितरित भार के अधीन एक कैंटिलीवर बीम के मुक्त सिरे पर विक्षेपण, 

समान वितरित भार के अधीन मुक्त सिरे पर ढलान, 

QUESTION: 18

भार के आकस्मिक लागू होने के कारण निकाय में होने वाला प्रतिबल क्रमशः लागू होने की तुलना में _______ होता है।

Solution:
QUESTION: 19

यदि, पूर्णतः यु डी एल के अधीन 1 m विस्तार के कैंटीलीवर बीम के मुक्त सिरे पर विक्षेपण 15 mm है तो, मुक्त सिरे पर ढलान निम्न में से कितना होगा?

Solution:
QUESTION: 20

दिए गए पदार्थ के लिए, कठोरता का मापांक 120 गीगापास्कल और प्वासों (Poisson’s) अनुपात 0.4 है। तो प्रत्यास्थता के मापांक का मान गीगापास्कल में ज्ञात करें​।

Solution:

E = 2G (1 + μ) = 2 × 120 (1 + 0.4) = 336 गीगापास्कल

Use Code STAYHOME200 and get INR 200 additional OFF
Use Coupon Code

Download free EduRev App

Track your progress, build streaks, highlight & save important lessons and more!

Related tests