Physics Exam  >  Physics Videos  >  Modern Physics for IIT JAM  >  Comparison between Conductor, insulator & semiconductor (in Hindi)

Comparison between Conductor, insulator & semiconductor (in Hindi) Video Lecture | Modern Physics for IIT JAM

53 videos|44 docs|15 tests

FAQs on Comparison between Conductor, insulator & semiconductor (in Hindi) Video Lecture - Modern Physics for IIT JAM

1. कंडक्टर, इन्सुलेटर और सेमीकंडक्टर के बीच की तुलना कैसे की जाती है?
उत्तर: कंडक्टर, इन्सुलेटर और सेमीकंडक्टर तीन प्रकार के पदार्थ हैं जो विद्युत चालकता में अंतर करते हैं। कंडक्टर एक पदार्थ है जो विद्युत चालकता को अच्छी तरह से पास करता है, इन्सुलेटर एक पदार्थ है जो विद्युत चालकता को ठीक से नहीं पास करता है और सेमीकंडक्टर एक पदार्थ है जो विद्युत चालकता को माध्यम रूप से पास करता है। कंडक्टर में उच्च तापमान पर बहुत सारे एलेक्ट्रॉन होते हैं, इन्सुलेटर में बहुत कम एलेक्ट्रॉन होते हैं और सेमीकंडक्टर में एक अच्छी मात्रा में एलेक्ट्रॉन होते हैं।
2. कंडक्टर की प्रमुख विशेषताएं क्या होती हैं?
उत्तर: कंडक्टर की प्रमुख विशेषताएं इस प्रकार होती हैं: - कंडक्टर विद्युत चालकता को अच्छी तरह से पास करता है। - यह धातु या तत्व हो सकता है, जैसे कि तांबा, सोना, चांदी, आदि। - कंडक्टर में उच्च तापमान पर बहुत सारे एलेक्ट्रॉन होते हैं जो स्वतः ही आवेशित होते हैं।
3. इन्सुलेटर क्या होता है और इसकी प्रमुख विशेषताएं क्या होती हैं?
उत्तर: इन्सुलेटर एक पदार्थ होता है जो विद्युत चालकता को ठीक से नहीं पास करता है। इन्सुलेटर की प्रमुख विशेषताएं इस प्रकार होती हैं: - इन्सुलेटर विद्युत चालकता को पास नहीं करता है और इसलिए विद्युतीय धारा को रोकता है। - इन्सुलेटर अधिकतर अच्छे आवेशनिक तत्व होते हैं, जैसे कि खाद्य प्लास्टिक, ग्लास, रबर, आदि। - इन्सुलेटर में बहुत कम एलेक्ट्रॉन होते हैं और यह अपने आप में आवेशित नहीं होते हैं।
4. सेमीकंडक्टर क्या होता है और इसकी प्रमुख विशेषताएं क्या होती हैं?
उत्तर: सेमीकंडक्टर एक पदार्थ होता है जो विद्युत चालकता को माध्यम रूप से पास करता है। सेमीकंडक्टर की प्रमुख विशेषताएं इस प्रकार होती हैं: - सेमीकंडक्टर विद्युत चालकता को माध्यम रूप से पास करता है और इसलिए इसकी चालकता पर नियंत्रण रखा जा सकता है। - सेमीकंडक्टर में अच्छी मात्रा में एलेक्ट्रॉन होते हैं जो आवेशित हो सकते हैं या आवेशित नहीं हो सकते हैं, जैसे कि सिलिकॉन और जर्मेनियम। - सेमीकंडक्टर का चालकता तापमान के साथ परिवर्तित होता है, जिससे इसे उच्च तापमान और निम्न तापमान दोनों पर उपयोगी बनाया जा सकता है।
5. क्या इन्सुलेटर सेमीकंडक्टर हो सकता है?
उत्तर: हाँ, कुछ पदार्थ इन्सुलेटर सेमीकंडक्टर हो सकते हैं। ये पदार्थ विशेष रूप से डोपिंग के माध्यम से एक इन्सुलेटर को सेमीकंडक्टर बनाने के लिए प्रयास
53 videos|44 docs|15 tests
Explore Courses for Physics exam
Signup for Free!
Signup to see your scores go up within 7 days! Learn & Practice with 1000+ FREE Notes, Videos & Tests.
10M+ students study on EduRev
Download the FREE EduRev App
Track your progress, build streaks, highlight & save important lessons and more!
Related Searches

pdf

,

insulator & semiconductor (in Hindi) Video Lecture | Modern Physics for IIT JAM

,

Viva Questions

,

Comparison between Conductor

,

shortcuts and tricks

,

Previous Year Questions with Solutions

,

Important questions

,

Summary

,

Extra Questions

,

Semester Notes

,

video lectures

,

Exam

,

practice quizzes

,

Free

,

mock tests for examination

,

insulator & semiconductor (in Hindi) Video Lecture | Modern Physics for IIT JAM

,

study material

,

insulator & semiconductor (in Hindi) Video Lecture | Modern Physics for IIT JAM

,

Comparison between Conductor

,

Objective type Questions

,

Sample Paper

,

ppt

,

MCQs

,

Comparison between Conductor

,

past year papers

;