Class 10 Hindi B: CBSE Sample Question Paper- Term I (2021-22) - 3 Notes | Study CBSE Sample Papers For Class 10 - Class 10

Class 10: Class 10 Hindi B: CBSE Sample Question Paper- Term I (2021-22) - 3 Notes | Study CBSE Sample Papers For Class 10 - Class 10

The document Class 10 Hindi B: CBSE Sample Question Paper- Term I (2021-22) - 3 Notes | Study CBSE Sample Papers For Class 10 - Class 10 is a part of the Class 10 Course CBSE Sample Papers For Class 10.
All you need of Class 10 at this link: Class 10

कक्षा 10
समय: 1:30 घण्टा
पूर्णांक: 40

सामान्य निर्देश:
(i) इस प्रश्नपत्र में तीन खंड हैं- खंड-क, खंड-ख और खंड-ग।
(ii) खण्ड ‘क’ में कुल 2 प्रश्न पूछे गए हैं। दोनों प्रश्नों के कुल 20 उपप्रश्न दिए गए हैं। दिए गए निर्देशों का पालन करते हुए कुल 10 उपप्रश्नों के उत्तर दीजिए।
(iii) खण्ड ‘ख’ में 4 प्रश्न हैं तथा इन सभी के 21 उपप्रश्न हैं। इनमें से निर्देशानुसार 16 उपप्रश्नों के उत्तर दीजिए।
(iv) खण्ड ‘ग’ में कुल 3 प्रश्न हैं तथा 14 उपप्रश्न सम्मिलित हैं सभी उपप्रश्नों के उत्तर दीजिए।


खंड-क (अपठित गद्यांश)

1. नीचे दो गद्यांश दिए गए हैं। किसी एक गद्यांश को ध्यानपूर्वक पढ़िए और उस पर आधारित प्रश्नों के उत्तर सही विकल्प चुनकर दीजिए-
समय परिवर्तनशील है। वह कभी एक सा नहीं रहता। परिवर्तन अपने साथ कुछ अच्छाइयाँ तो साथ ही कुछ बुराइयाँ लेकर आता है। शिक्षा उद्योग, चिकित्सा, संस्कृति आदि में कई परिवर्तन आने से मनुष्य का जीवन सुख-सुविधाओं से भर उठा। यह सकारात्मक और नकारात्मक दोनों रूपों में हुआ। सुख-समृद्धि के कारण समाज में हिंसा, चोरी, भ्रष्टाचार जैसी सामाजिक बुराइयाँ चुनौती के रूप में सामने आईं। आज मनुष्यों की जीवन शैली में बहुत अन्तर आ गया है, जिससे उनके जीवन मूल्य भी बदल गए हैं। जीवन मूल्यों में आई गिरावट के कारण मनुष्य का जीवन दिन पर दिन अशांत होता जा रहा है। उसके जीवन में तनाव, अनिद्रा, हृदय से सम्बन्धित रोग और भय घर कर गया है। नैतिक पतन, दुराचार, सामाजिक असन्तुलन जैसी बुराइयाँ आ गई हैं।
भारतीयों ने पश्चिमी देशों का अंधा अनुकरण किया जिससे पश्चिमी संस्कारों तथा संस्कृति ने अपना प्रभाव भारत में दिखाना आरम्भ किया। यहाँ के छात्र उच्च अध्ययन के लिए विदेशों में नए और वहाँ की तरक्की के लिए उनकी संस्कृति को ही उत्तरदायी मानकर उसे अपनाने पर जोर देने लगे। आज भारत से जब छात्र विदेश अध्ययन के लिए जाते है तो वे पूर्णतः भारतीय होते हैं किन्तु जब कुछ वर्षों बाद भारत लौटते हैं तो पूरी तरह विदेशी संस्कृति में रंगे होते हैं। विदेशी संस्कृति को अपनाने के कारण उन्हें अपनी संस्कृति में अनेक बुराइयाँ दिखाई देने लगती हैं उन्हें संयुक्त परिवार-प्रथा में दोष नजर आते हैं। भारतीय विवाह-पद्धति बेकार लगने लगती है, भारतीय पहनावे और आचार-विचार में उन्हें पिछड़ापन नजर आता है। इन सबके कारण हमारे जीवन मूल्यों में गिरावट आ रही है।

निम्नलिखित प्रश्नों के निर्देशानुसार सर्वाधिक उपयुक्त विकल्प का चयन कीजिए-

प्रश्न.1: परिवर्तन अपने साथ क्या लेकर आता है?
(क) नए-नए बदलाव
(ख) कुछ अच्छाइयाँ और कुछ बुराइयाँ
(ग) कुछ अनिवार्य समस्याएँ
(घ) उपरोक्त सभी

सही उत्तर विकल्प है (ख)


प्रश्न.2: सुख समृद्धि के साथ-साथ समाज में कौन-सी सामाजिक बुराइयाँ चुनौती के रूप में सामने आई हैं?
(क) 
छुआछूत, ऊँच-नीच जैसी सामाजिक चुनौतियाँ
(ख) जाति भेद, वर्ग भेद की चुनौती
(ग) हिंसा, चोरी, भ्रष्टाचार जैसी सामाजिक बुराइयाँ
(घ) (क) और (ख) दोनों सही हैं

सही उत्तर विकल्प है (ग)


प्रश्न.3: पश्चिमी संस्कारों तथा संस्कृति ने भारत में अपना प्रभाव दिखाना क्यों शुरू कर दिया?
(क)
भारतीयों द्वारा पश्चिमी देशों का अंधा अनुकरण करने के कारण
(ख) भारतीयों द्वारा अपनी संस्कृति अपनाने के कारण
(ग) पश्चिमी देशों द्वारा भारत का अंधा अनुकरण करने के कारण
(घ) भारतीयों द्वारा पश्चिमी देशों का भ्रमण करने के कारण

सही उत्तर विकल्प है (क)


प्रश्न.4: भारतीय छात्रों के विदेशी संस्कृति अपनाने का कारण है?
(क)
उनका बार-बार विदेश जाना
(ख) उनकी शीघ्र धनवान बनने की लालसा
(ग) अध्ययन के लिए विदेश जाना
(घ) वहाँ की तरक्की के लिए उनकी संस्कृति को ही उत्तरदायी मानना

सही उत्तर विकल्प है (घ)


प्रश्न.5: उपरोक्त गद्यांश का उचित शीर्षक होगा-
(क)
समाज और जीवन-मूल्य
(ख) समाज के गिरते जीवन-मूल्य
(ग) भारत और विदेश
(घ) विदेशी संस्कृति

सही उत्तर विकल्प है (ख)


अथवा
आशा से भरकर जीवन को देखो तो निराश और नकारात्मक दिखाई देने वाले जीवन का मार्ग साफ़ और गतिशील दिखाई देना आरम्भ हो जाएगा। इसके लिए हमें क्या करना होगा? इसका उत्तर है-हमें केवल अनंन्त धैर्य, विश्वास और आशा से अपने लक्ष्य की ओर देखना होगा। साथ ही हमें यह भी ध्यान रखना होगा कि जो आज नहीं हुआ वह कल होगा, कल नहीं तो परसों अवश्य होगा। हमारे प्रयत्न निष्फल नहीं जाएँगे। प्रतीक्षा और आशा जीवन पथ के दो ऊँचे प्रकाश स्तम्भ हैं। चीज़ों को, परिस्थितियों को, अपने आस-पास के व्यक्तियों को उनके अंधेरे हिस्से की तरफ से मत देखो। वहाँ से मत देखो जहाँ से चीज़ें और स्थितियाँ कष्टपूर्ण और प्रतिकूल प्रतीत होती हैं। हर किसी के उज्जवल और प्रकाशमान पक्ष को खोजो। घने काँटों के बीच खिले छोटे से फूल को प्रेम के साथ देखने से काँटे दिखाई ही नहीं देंगे। विश्वास और आस्था लो और उसे जीवन के हर वर्ग में बाँटो। इसमें किसी प्रकार की कंजूसी मत करो। जिन्हें आशा, विश्वास, सहायता, सहयोग और सांत्वना की आवश्यकता है, उन्हें बिना किसी स्वार्थ और द्वेष की भावना के इन्हें बाँट दो। ऐसा करने पर तुम देखोगे कि समाज के बीच आशा और विश्वास में वृद्धि हो रही है।

निम्नलिखित प्रश्नों के निर्देशानुसार उपयुक्त विकल्प का चयन कीजिए-
प्रश्न.1: निराश और नकारात्मक दिखाई देने वाले जीवन का मार्ग कब स्पष्ट दिखाई देने लगता है?
(क) जीवन के प्रति निराशावादी दृष्टिकोण रखने से
(ख) जीवन के प्रति नकारात्मक दृष्टिकोण रखने से
(ग) जीवन के प्रति आशावादी दृष्टिकोण रखने से
(घ) इनमें से कोई नहीं

सही उत्तर विकल्प है (ग)


प्रश्न.2: जीवन पथ के दो ऊँचे प्रकाश स्तम्भ हैं-
(क) अभिलाषा और आशा
(ख) प्रतीक्षा और धैर्य
(ग) प्रतीक्षा और निराशा
(घ) प्रतीक्षा और आशा

सही उत्तर विकल्प है (घ)


प्रश्न.3: लेखक हमें लोगों को किसी चीज़ को उदारता से बाँटने का संदेश देते हैं?
(क)
विश्वास और आस्था
(ख) अविश्वास और आस्था
(ग) विश्वास और उत्साह
(घ) अपेक्षा और आस्था

सही उत्तर विकल्प है (क)


प्रश्न.4: जीवन का मार्ग स्पष्ट दिखाई देने के लिए हमें क्या करना चाहिए?
(क) 
व्यक्ति और वस्तुओं के अंधकारमय पक्ष को खोजें
(ख) व्यक्ति, वस्तुओं और परिस्थितियों के उज्जवल और प्रकाशमान पक्ष को खोजें
(ग) जीवन में निराशावादी भाव रखें
(घ) उपर्युक्त सभी कथन सत्य हैं

सही उत्तर विकल्प है (ख)


प्रश्न.5: उपरोक्त गद्यांश का उचित शीर्षक होगा-
(क)
जीवन का महत्व
(ख) विश्वास का महत्व
(ग) जीवन में आशा का महत्व
(घ) जीवन और आशा

सही उत्तर विकल्प है (ग)


2. नीचे दो गद्यांश दिए गए हैं। किसी एक गद्यांश को ध्यानपूर्वक पढ़िए और उस पर आधारित प्रश्नों के उत्तर सही विकल्प चुनकर दीजिए-
प्रसिद्ध संत एकनाथ जी बारह वर्ष की अवस्था में ही अपने गुरु जनार्दन स्वामी के पास देवगढ़ पहुँच गए थे। गुरु ने उन्हें आश्रम के हिसाब-किताब का काम सौंप दिया। एक दिन जब एकनाथ जी ने हिसाब किया तो उन्हें एक पाई की कमी नजर आई। बहुत सोचने के बाद आखिर बार उन्हें आधी रात को एक पाई का हिसाब मिल गया तो उन्होंने उसी समय अपने गुरुजी को जाकर यह बात बताई। इस पर गुरुजी बहुत हँसे फिर बोले, बेटा एक पाई की भूल मिलने से तुम इतने प्रसन्न हो गए और इस संसार के एक माया जाल जैसी महाभूल को अपनाए हुए हो इस पर कभी सोचा है? यह सुनते ही एकनाथ जी के भीतर वैराग्य जागा और दुनिया के कामकाज से उनका मोहभंग हो गया। उन्होंने उसी समय सब कुछ छोड़ देने का फैसला किया। वे अपने गुरु से दीक्षा लेकर पर्वत पर जाकर तपस्या करने लगे। तपस्या के बाद वे अपनी जन्म भूमि के निकट पिपलेश्वर महादेव में रहने लगे, पर थोड़े ही समय बाद विवाह कर गृह संन्यासी बन गए। एकनाथ जी ने गुरु के आदेश का पालन किया। विवाह के बाद उनके घर में नित्य कीर्तन होता और अन्न वितरण किया जाता। एक दिन कीर्तन में कुछ चोर आ गए उन्होंने घर का सभी सामान समेट लिया फिर उन्होंने देव मूर्ति के आभूषण चुराने का प्रयास किया। वहीं एकनाथ जी ध्यान मग्न बैठे थे। उन्होंने चोरों से कहा तुम्हें इनकी बहुत अधिक आवश्यकता होगी अन्यथा इतनी रात गए भला कोई जोखिम क्यों उठाता? तुम सब मुसीबत के मारे लगते हो चिन्ता मत करो जो मदद होगी मैं करूँगा। यह कहते हुए उन्होंने अपनी उँगली की अंगूठी भी उतार कर उन्हें दे दी। यह देखकर चोर बहुत लज्जित हुए, उन्होंने कभी चोरी न करने का संकल्प लिया।

निम्नलिखित प्रश्नों के निर्देशानुसार सर्वाधिक उपयुक्त विकल्प का चयन कीजिए-
प्रश्न.1: संत एकनाथ जी किसके पास, कहाँ पहुँच गए थे?
(क) गुरु गोरखनाथ के पास प्रतापगढ़
(ख) स्वामी दयानंद के पास देवगढ़
(ग) गुरु जनार्दन स्वामी के पास देवगढ़
(घ) इनमें से कोई नहीं

सही उत्तर विकल्प है (ग)


प्रश्न.2: गुरुजी ने उन्हें क्या काम दिया?
(क)
आश्रम के हिसाब-किताब का काम
(ख) आश्रम की भोजन-व्यवस्था का काम
(ग) आश्रम की साफ-सफाई का काम
(घ) आश्रम के बाग-बगीचों की देखभाल का काम

सही उत्तर विकल्प है (क)


प्रश्न.3: एकनाथ जी किस बात पर बहुत प्रसन्न हुए?
(क)
एक रुपए का हिसाब मिल जाने पर
(ख) एक पाई का हिसाब मिल जाने पर
(ग) एक रुपया मिल जाने पर
(घ) एक पाई मिल जाने पर

सही उत्तर विकल्प है (ख)


प्रश्न.4: एकनाथ जी के मन में वैराग्य कैसे जागा?
(क) गुरुजी द्वारा उनका मोह भंग करने पर
(ख) गुरुजी द्वारा उन्हें फटकारने पर
(ग) गुरुजी द्वारा वैराग्य का आदेश देने पर
(घ) (क) और (ख) दोनों

सही उत्तर विकल्प है (क)


प्रश्न.5: उन्होंने अपने गुरु के आदेशानुसार क्या किया?
(क)
उन्होंने गृहस्थ जीवन त्याग दिया
(ख) उनके घर में नित्य कीर्तन होता और अन्न वितरण किया जाता
(ग) उन्होंने अपना घर छोड़ दिया
(घ) वे तपस्या करने गुफा में चले गए

सही उत्तर विकल्प है (ख)


अथवा
तिलक ने स्वराज का सपना दिया और गाँधी जी ने उस सपने को दलितों और स्त्रियों से जोड़कर एक ठोस सामाजिक अवधारणा के रूप में देश के सामने रखा। स्वतन्त्रता के उपरान्त बड़े-बड़े कारखाने खोले गए, वैज्ञानिक विकास भी हुआ, बड़ी-बड़ी योजनाएँ भी बनीं। किन्तु गाँधीवादी मूल्यों के प्रति हमारी प्रतिबध्यता सीमित होती चली गई। दुर्भाग्य से गाँधीजी के बाद गाँधीवाद का कोई ऐसा व्याख्याकार न मिला जो राजनीतिक, सामाजिक और आर्थिक संदर्भ में गाँधीजी की सोच की समसामयिक व्याख्या करता। इस कारण यह विचार लेागों के मन में घर करता चला गया कि गाँधीवादी विकास का मॉडल धीमे चलने वाला और तकनीकी प्रगति से विमुख है। उस पर ध्यान देने से हम आधुनिक वैज्ञानिक युग की दौड़ में पिछड़ जाएँगे। यह कहना गलत नहीं होगा कि कुछ लोगों की पाखंडी जीवनशैली ने भी इस धारणा को और पुष्ट किया है। इसका परिणाम यह हुआ कि देश में बुनियादी, तकनीकी और औद्योगिक प्रगति तो आई पर देश के सामाजिक और वैचारिक ढाँचे में जरूरी बदलाव नहीं लाए गए। अतः तकनीकी विकास ने समाज में व्याप्त व्यापक फटे हाली धार्मिक कूपमंडूकता और जातिवाद को नहीं मिटाया।

निम्नलिखित प्रश्नों के निर्देशानुसार प्रश्नों में से उपर्युक्त विकल्प का चयन कीजिए-

प्रश्न.1: तिलक ने लोगों को कौन-सा सपना दिया?
(क)
एकजुट होकर रहने का
(ख) स्वतन्त्रता प्राप्ति के लिए अस्त्र उठाने का
(ग) स्वराज प्राप्त करने का
(घ) उपर्युक्त सभी

सही उत्तर विकल्प है (ग)


प्रश्न.2: स्वतन्त्रता के उपरान्त देश में क्या परिवर्तन आया?
(क) बड़े-बड़े कारखाने खोले गए
(ख) वैज्ञानिक विकास हुआ
(ग) बड़ी-बड़ी योजनाएँ बनीं
(घ) उपर्युक्त सभी

सही उत्तर विकल्प है (घ)


प्रश्न.3: गाँधीवादी विचारधारा के प्रति लोगों के मन में क्या विचार घर कर गया था?
(क) गाँधीवादी विकास का मॉडल धीमे चलने वाला और तकनीकी प्रगति से विमुख है
(ख) गाँधीवादी विकास का मॉडल तेज चलने वाला किन्तु तकनीकी प्रगति से विमुख है
(ग) गाँधीवादी विकास का मॉडल धीमे चलने वाला किन्तु तकनीकी प्रगति में सक्षम है
(घ) इनमें से कोई नहीं

सही उत्तर विकल्प है (क)


प्रश्न.4: देश के सामाजिक और वैचारिक ढाँचे में बदलाव न आने का क्या कारण था?
(क)
लोगों में जीवन के प्रति लगाव का अभाव
(ख) लोगों में गाँधीवादी जीवन-मूल्यों के प्रति लगाव का अभाव
(ग) लोगों में आशावादी दृष्टिकोण का अभाव
(घ) लोगों में उत्साह का अभाव

सही उत्तर विकल्प है (ख)


प्रश्न.5: गाँधीजी ने तिलक के सपने को किस रूप में देश के सामने रखा?
(क)
दलितों और स्त्रियों से जोड़कर एक सपने के रूप में
(ख) निर्धनों से जोड़कर एक ठोस सामाजिक अवधारणा के रूप में
(ग) बच्चों से जोड़कर एक जीवन-मूल्य के रूप में
(घ) दलितों और स्त्रियों से जोड़कर एक ठोस सामाजिक अवधारणा के रूप में

सही उत्तर विकल्प है (घ)


खंड-ख (व्यावहारिक व्याकरण)

3. निम्नलिखित पाँच भागों में से किन्हीं चार प्रश्नों के सही उत्तर वाले विकल्प चुनिए-


प्रश्न.1: मैदान में दौड़ती हुई बच्ची अचानक गिर पड़ी। वाक्य में रेखांकित पदबंध है-
(क)
संज्ञा पदबंध
(ख) सर्वनाम पदबंध
(ग) विशेषण पदबंध
(घ) क्रिया विशेषण पदबंध

सही उत्तर विकल्प है (क)
यहाँ रेखांकित पद समूह या पदबंध वाक्य में संज्ञा का कार्य कर रहा है। अर्थात यह पद समूह ‘बच्ची’ संज्ञा का ही विस्तार है।


प्रश्न.2: ‘फूलों पर सुंदर, रंग-बिरंगी तितलियाँ मँडरा रहीं हैं।’ वाक्य में विशेषण पदबंध है-
(क) 
सुंदर, रंग-बिरंगी
(ख) रंग-बिरंगी तितलियाँ
(ग) फूलों पर
(घ) मँडरा रही हैं

सही उत्तर विकल्प है (क)
यह पद समूह वाक्य में संज्ञा ‘तितली’ की विशेषता बता रहा है। अतः यह पद समूह विशेषण पदबंध है।


प्रश्न.3: मुझे सड़क पर कुछ अपराधी दौड़ते हुए दिखाई दिए। वाक्य में रेखांकित पदबंध है-
(क)
संज्ञा पदबंध
(ख) सर्वनाम पदबंध
(ग) क्रिया पदबंध
(घ) क्रिया विशेषण पदबंध

सही उत्तर विकल्प है (ग)
यहाँ रेखांकित पद समूह या पदबंध वाक्य में क्रिया का कार्य कर रहा है। अतः यह पद समूह क्रिया पदबंध है।


प्रश्न.4: जब एक से अधिक पद मिलकर एक व्याकरणिक इकाई का कार्य करते हैं, तब उस बँधी हुई इकाई को ______ कहते हैं।
(क)
वाक्य
(ख) शब्द-समूह
(ग) वाक्यांश
(घ) पदबंध

सही उत्तर विकल्प है (घ)
जब एक से अधिक पद मिलकर एक व्याकरणिक इकाई का कार्य करते हैं, तब उस बँधी हुई इकाई को पदबंध कहते हैं।


प्रश्न.5: घायल बच्चा धीरे-धीरे चलता हुआ घर पहुँचा। वाक्य में रेखांकित पदबंध है-
(क) संज्ञा पदबंध
(ख) क्रिया पदबंध
(ग) विशेषण पदबंध
(घ) क्रिया विशेषण पदबंध

सही उत्तर विकल्प है (घ)
यहाँ रेखांकित पद समूह या पदबंध वाक्य में क्रिया ‘पहुँचने’ की विशेषता बता रहा है।


4. निम्नलिखित पाँच भागों में से किन्हीं चार प्रश्नों के सही उत्तर वाले विकल्प का चयन कीजिए-


प्रश्न.1: ‘माँ ने बच्चे को तैयार करके स्कूल भेजा।’ (वाक्य रचना की दृष्टि से है)
(क)
संयुक्त वाक्य
(ख) सरल वाक्य
(ग) आश्रित उपवाक्य
(घ) मिश्र वाक्य

सही उत्तर विकल्प है (ख)
इस वाक्य में एक उद्देश्य/एक कर्ता (माँ) और एक मुख्य क्रिया या समापिका क्रिया (भेजा) है अतः यह सरल वाक्य हैं।


प्रश्न.2: ‘‘हम लोग फल खरीदने के लिए बाजार गए थे’’ का मिश्र वाक्य बनेगा-
(क) 
हम लोगों को बाजार जाना था और वहाँ से फल खरीदने थे
(ख) हम लोग बाजार गए और फल खरीदे
(ग) चूँकि हम लोगों को फल खरीदने थे इसलिए हम बाजार गए थे
(घ) इनमें से कोई नहीं

सही उत्तर विकल्प है (ग)


प्रश्न.3: ‘प्लेट नीचे गिरकर टूट गई,’ का संयुक्त वाक्य बनेगा-
(क)
प्लेट नीचे गिरी और टूट गई
(ख) प्लेट नीचे गिरते ही टूट गई
(ग) नीचे गिरने के बाद प्लेट टूट गई
(घ) जो प्लेट नीचे गिरी थी वह टूट गई

सही उत्तर विकल्प है (क)
यहाँ दो स्वतंत्र वाक्य ‘और’ योजक द्वारा जुडे़ हुए हैं अतः यह संयुक्त वाक्य है।


प्रश्न.4: निम्नलिखित में से मिश्र वाक्य है-
(क) मोहन आकर पढ़ने लगा
(ख) अमित खेल में भी अच्छा है और पढ़ने में भी
(ग) मोहन आया लेकिन खेलने लगा
(घ) जो छात्र परिश्रमी होते हैं, वे सदा सफल होते हैं

सही उत्तर विकल्प है (घ)
यहाँ एक प्रधानवाक्य और एक आश्रित उपवाक्य है अतः यह मिश्र वाक्य है।


प्रश्न.5: सरल वाक्य को संयुक्त अथवा मिश्र वाक्य में, मिश्र वाक्य को सरल अथवा संयुक्त वाक्य में तथा संयुक्त वाक्य को सरल अथवा मिश्र वाक्य में बदलने की प्रक्रिया को कहते हैं-
(क) वाक्य रचना
(ख) वाक्य-भेद
(ग) वाक्य रूपांतरण
(घ) वाक्य संश्लेषण

सही उत्तर विकल्प है (ग)
सरल वाक्य को संयुक्त अथवा मिश्र वाक्य में, मिश्र वाक्य को सरल अथवा संयुक्त वाक्य में तथा संयुक्त वाक्य को सरल अथवा मिश्र वाक्य में बदलने की प्रक्रिया को ‘वाक्य- रूपांतरण कहते हैं।


5. निम्नलिखित छह भागों में से किन्ही चार प्रश्नों के सही उत्तर वाले विकल्प का चयन कीजिए-


प्रश्न.1: ‘आजीवन’ शब्द का समास-विग्रह और समास का नाम है-
(क) जीवन पर्यंत- अव्ययीभाव समास
(ख) जीवन का अंत-अव्ययीभाव समास
(ग) जीवन पर्यंत-द्विगु समास
(घ) आ और जीवन-द्वंद्व समास

सही उत्तर विकल्प है (क)
यहाँ पहला पद ‘आ’ प्रधान और अव्यय है, अतः यह अव्ययीभाव समास है।


प्रश्न.2: पंचानन समस्त पद का उचित समास-विग्रह होगा-
(क) पाँच नैन हैं जिसके।
(ख) पाँच नख हैं जिसके
(ग) पाँच आनन (मुख) हैं जिसके
(घ) पाँच हाथ हैं जिसके

सही उत्तर विकल्प है (ग)


प्रश्न.3: ‘मृग के समान नयन’ का समस्त पद है-
(क) मृगनयनी
(ख) मृगनयन
(ग) मृग जैसे नयन
(घ) नयनमृग

सही उत्तर विकल्प है (ख)


प्रश्न.4: ‘घनश्याम’ शब्द का उचित समास विग्रह और समास का नाम है-
(क) घन है जो श्याम-कर्मधारय समास
(ख) घन के समान श्याम है जो अर्थात कृष्ण-बहुब्रीहि समास
(ग) श्याम जो घन है-बहुब्रीहि समास
(घ) इनमें से कोई नहीं

सही उत्तर विकल्प है (ख)
यह बहुब्रीहि समास का उदाहरण है। यहाँ घन और श्याम दोनों पद प्रधान न होकर तीसरा पद अर्थात कृष्ण प्रधान हैं।


प्रश्न.5: ‘देशभक्ति’ शब्द में कौन सा समास है?
(क) कर्मधारय समास
(ख) द्विगु समास
(ग) तत्पुरुष समास
(घ) अव्ययीभाव समास

सही उत्तर विकल्प है (ग)
‘देशभक्ति’ का समास-विग्रह होगा-देश के लिए भक्ति, समस्त पद बनाते समय के लिए विभक्ति का लोप हो गया है। अतः यह संप्रदान तत्पुरुष समास है।


प्रश्न.6: ‘नवग्रह’ समस्त पद किस समास का उदाहरण है ?
(क) अव्ययीभाव समास
(ख) द्विगु समास
(ग) द्वंद्व समास
(घ) तत्पुरुष समास

सही उत्तर विकल्प है (ख)
समास विग्रह नौ ग्रहों का समूह या समाहार। यहाँ पहला पद ‘नव’ अर्थात नौ ,संख्यावाची है और यह समस्त पद समूह का बोध करा रहा है।


6. निम्नलिखित पाँच भागों में से किन्ही चार प्रश्नों के सही उत्तर निर्देशानुसार दीजिए तथा सर्वाधिक उपयुक्त विकल्प का चयन कीजिए-


प्रश्न.1: कुछ लोग______दूसरों को हानि पहुँचाने से नहीं चूकते। रिक्त स्थान की पूर्ति के लिए उचित मुहावरा है-
(क) अपनी खिचड़ी अलग पकाना
(ख) अपना उल्लू सीधा करना
(ग) हाथ-पैर मारना
(घ) अपना राग अलापना

सही उत्तर विकल्प है (ख)
इस मुहावरे का अर्थ है-अपना काम निकालना या अपना मतलब सिद्ध करना।


प्रश्न.2: नौकर को चोरी करते देख मालिक गुस्से से______। रिक्त स्थान की पूर्ति के लिए उचित मुहावरा है-
(क) रँगे हाथों पकड़ा जाना
(ख) नौ-दो ग्यारह होना
(ग) आग बबूला होना
(घ) ठनक जाना

सही उत्तर विकल्प है (ग)
इस मुहावरे का अर्थ है- बहुत क्रोधित होना नौकर को चोरी करते देख मालिक गुस्से से आग बबूला हो गया।


प्रश्न.3: परीक्षा समाप्त होते ही मुकेश______। रिक्त स्थान की पूर्ति के लिए उचित मुहावरा है-
(क) घोडे़ बेचकर सोना
(ख) खून-पसीना एक करना
(ग) अपना मतलब साधना
(घ) घी के दिए जलाना

सही उत्तर विकल्प है (क)
इस मुहावरे अर्थ है- बेफिक्र होना परीक्षा समाप्त होते ही मुकेश घोड़े बेचकर सो गया।


प्रश्न.4: भारतीय सैनिक______शत्रु का सामना करते हैं। रिक्त स्थान की पूर्ति के लिए उचित मुहावरा है-
(क) प्राण हथेली पर रखना
(ख) जी-तोड़ मेहनत करना
(ग) आकाश के तारे तोडना
(घ) आहुति लगा देना

सही उत्तर विकल्प है (क)
इस मुहावरे का अर्थ है-अपना जीवन खतरे में डालना भारतीय सैनिक अपने प्राण हथेली पर रखकर शत्रु का सामना करते हैं।


प्रश्न.5: ‘अपने पैरों पर खड़े होना’ मुहावरे का अर्थ है-
(क) स्वार्थ सिद्ध करना
(ख) अपने पैरों के ऊपर खड़े होना
(ग) अपने पैरों पर खड़े न होना
(घ) आत्मनिर्भर होना

सही उत्तर विकल्प है (घ)


खंड - ग (पाठ्यपुस्तक)

7. निम्नलिखित काव्यांश पर आधारित प्रश्नों के उत्तर उचित विकल्प छाँटकर दीजिए-
हरि आप हरो जन री भीर।
द्रोपदी री लाज राखी, आप बढ़ायो चीर।
भगत कारण रूप नरहरि, धर्यो आप सरीर।
बूढ़तो गजराज राख्यो, काटी कुण्जर पीर।
दासी मीराँ लाल गिरधर, हरो म्हारी भीर।।

प्रश्न.1: प्रस्तुत पद में मीराबाई किसकी अराधना कर रही हैं?
(क) भगवान श्रीराम की
(ख) भगवान श्रीकृष्ण की
(ग) भगवान शिवजी की
(घ) भगवान विष्णु की

सही उत्तर विकल्प है ()
मीरा श्रीकृष्ण की अनन्य भक्त है।


प्रश्न.2: ‘हरि आप हरो जन री भीर’ पंक्ति का आशय है-
(क) हे प्रभु! मेरी पीड़ा हरो
(ख) हे प्रभु! आप अपने सभी भक्तों के दुःख दूर करो
(ग) हे प्रभु! केवल मेरी पीड़ा दूर करो
(घ) इनमें से कोई नहीं

सही उत्तर विकल्प है ()


प्रश्न.3: श्रीकृष्ण ने वस्त्र बढ़ाकर किसकी लाज बचाई थी?
(क) मीरा की
(ख) द्रोपदी की
(ग) सीता की
(घ) कुंती की

सही उत्तर विकल्प है ()
जब द्रौपदी ने कौरवों से अपमानित होकर श्रीड्डष्ण को पुकारा था तो उन्होंने अनंत साड़ी प्रदान कर के द्रोपदी की लाज बचाई थी।


प्रश्न.4: भक्त प्रह्लाद की रक्षा हेतु भगवान श्रीकृष्ण ने किसका अवतार लिया?
(क) नरसिंह का
(ख) मगरमच्छ का
(ग) ऐरावत का
(घ) ये सभी

सही उत्तर विकल्प है ()


8. निम्नलिखित गद्यांश पर आधारित प्रश्नों के उत्तर उचित विकल्प छाँटकर दीजिए-
रावण भूमंडल का स्वामी था। ऐसे राजाओं को चक्रवर्ती कहते हैं। आजकल अंग्रेजों के राज्य का विस्तार बहुत बढ़ा हुआ है, पर इन्हें चक्रवर्ती नहीं कह सकते। संसार में अनेक राष्ट्र अंग्रेजों का आधिपत्य स्वीकार नहीं करते, बिल्कुल स्वाधीन हैं। रावण चक्रवर्ती राजा था, संसार के सभी महीप उसे कर देते थे। बड़े-बड़े देवता उसकी गुलामी करते थे। आग और पानी के देवता भी उसके दास थे, मगर उसका अंत क्या हुआ? घमंड ने उसका नाम-निशान तक मिटा दिया, कोई उसे एक चुल्लू पानी देने वाला भी न बचा। आदमी कुकर्म चाहे करे, पर अभिमान न करे, इतराये नहीं। अभिमान किया और दीन-दुनिया दोनों से गया।

प्रश्न.1: रावण कौन था?
(क) अयोध्या का राजा
(ख) देवताओं का दास
(ग) भूमंडल का स्वामी
(घ) अंग्रेजों का मददगार

सही उत्तर विकल्प है ()
रावण एक विशाल भूमंडल का स्वामी था।


प्रश्न.2: रावण चक्रवर्ती सम्राट क्यों था?
(क) क्योंकि संसार के सभी राजा उसे कर देते थे
(ख) क्योंकि बड़े-बड़े देवता उसकी गुलामी करते थे
(ग) क्योंकि आग और पानी के देवता भी उसके दास थे
(घ) उपरोक्त सभी

सही उत्तर विकल्प है (घ)
रावण को सभी राजा कर देते थे। बड़े-बडे़ देवता उसकी गुलामी करते थे। आग और पानी के देवता भी उसके दास थे।


प्रश्न.3: किसने रावण का नामो-निशान मिटा दिया?
(क) धन-दौलत ने
(ख) लालच ने
(ग) घमंड ने
(घ) श्री राम ने

सही उत्तर विकल्प है ()


प्रश्न.4: ‘नामो-निशान मिटाना’ का अर्थ है-
(क) कहीं का न रहना
(ख) नाम लिखकर मिटाना
(ग) सब कुछ नष्ट करना
(घ) इनमें से कोई नहीं

सही उत्तर विकल्प है ()


प्रश्न.5: कौन, किसे रावण का उदाहरण देकर समझा रहा है?
(क) राम, रावण को
(ख) भाई साहब, लेखक को
(ग) लेखक, पाठक को
(घ) पाठक, श्रोता को

सही उत्तर विकल्प है ()
लेखक को अपने कक्षा में अव्वल आने और भाई साहब के फेल होने पर बहुत अभिमान हो गया था। इसको महसूस करके बडे़ भाई साहब रावण का उदाहरण देकर घमंड का परिणाम बताने की कोशिश कर रहे हैं।


9. निम्नलिखित गद्यांश पर आधारित प्रश्नों के उत्तर उचित विकल्प छाँटकर दीजिए-

ऐसी एक घटना का ज़िक्र सिंधी भाषा के महाकवि शेख अयाज़ ने अपनी आत्मकथा में किया है। उन्होंने लिखा है-‘एक दिन उनके पिता कुएँ से नहाकर लौटे। माँ ने भोजन परोसा। उन्होंने जैसे ही रोटी का कौर तोड़ा, उनकी नज़र अपनी बाजू पर पड़ी। वहाँ एक काला च्योंटा रेंग रहा था। वह भोजन छोड़कर उठ खड़े हुए। माँ ने पूछा, ‘क्या बात है? भोजन अच्छा नहीं लगा?’ शेख अयाज़ के पिता बोले, ‘नहीं, यह बात ननहीं है। मैंने एक घर वाले को बेघर कर दिया है। उस बेघर को कुएँ पर उसके घर छोड़ने जा रहा हूँ।’

प्रश्न.1: गद्यांश में किस सिंधी भाषी कवि का जिक्र हुआ है?
(क) शेख रिजवी
(ख) शेख उस्मान
(ग) शेख अयाज़
(घ) शेख खलीफा

सही उत्तर विकल्प है ()


प्रश्न.2: शेख अयाज़ के पिता कहाँ से नहाकर लौटे थे?
(क) कुएँ से
(ख) नदी से
(ग) तालाब से
(घ) समुद्र से

सही उत्तर विकल्प है ()


प्रश्न.3: वे भोजन छोड़कर क्यों उठ गए थे?
(क) भोजन अच्छा नहीं बना था
(ख) भूख नहीं थी
(ग) पहले च्योंटे को कुएँ पर उसके घर छोड़ना चाहते थे
(घ) उपर्युक्त में से कोई नहीं

सही उत्तर विकल्प है ()
शेख अयाज़ के पिता भोजन छोड़कर पहले च्योंटे को उसके घर कुएँ पर छोड़ने चल दिए क्योंकि उन्हें लगा कि उन्होंने उसे बेघर कर दिया है।


प्रश्न.4: उनकी बाजू पर क्या रेंग रहा था?
(क) कीड़ा
(ख) साँप
(ग) केंचुआ
(घ) काला च्योंटा

सही उत्तर विकल्प है (घ)


प्रश्न.5: भोजन किसने बनाया था?
(क) शेख अयाज़ ने
(ख) पिताजी ने
(ग) माँ ने
(घ) नौकर ने

सही उत्तर विकल्प है ()

The document Class 10 Hindi B: CBSE Sample Question Paper- Term I (2021-22) - 3 Notes | Study CBSE Sample Papers For Class 10 - Class 10 is a part of the Class 10 Course CBSE Sample Papers For Class 10.
All you need of Class 10 at this link: Class 10

Related Searches

practice quizzes

,

Semester Notes

,

Sample Paper

,

Exam

,

Viva Questions

,

Previous Year Questions with Solutions

,

study material

,

Class 10 Hindi B: CBSE Sample Question Paper- Term I (2021-22) - 3 Notes | Study CBSE Sample Papers For Class 10 - Class 10

,

shortcuts and tricks

,

video lectures

,

past year papers

,

Class 10 Hindi B: CBSE Sample Question Paper- Term I (2021-22) - 3 Notes | Study CBSE Sample Papers For Class 10 - Class 10

,

Class 10 Hindi B: CBSE Sample Question Paper- Term I (2021-22) - 3 Notes | Study CBSE Sample Papers For Class 10 - Class 10

,

Extra Questions

,

ppt

,

MCQs

,

mock tests for examination

,

Free

,

Important questions

,

pdf

,

Summary

,

Objective type Questions

;